तीनताल पेशकार | Teental peshkar - Hindi Darshnik

मंगलवार, 19 जुलाई 2022

                                
 

What is peshkar in tabla in hindi - तबला तीनताल पेशकार क्या है।




 
Peshkar in tabla teental
Tabla teental peshkar

पिछले लेसन में तीनताल के कायदे के बारे में जाना की तीनतालकायदा क्या होता है। इसमें किस तरह पलटे बनाये जाते है। आदि आज के लेसन में हम तीनताल पेशकार के बारे में जानेंगे। आपने Peshkar post से सम्बंधित कई post देखी होंगी। लेकिन हमारी post में आपको कुछ नया जानने को मिलेंगा.
 
 
 
 

Tabla tintal peshkar parichay – तबला तीनताल पेशकार का अर्थ एवं परिभाषा 

 
लय बाँट के कठोर नियमो के बिना, बोलो से डगमगाती चाल के विस्तृत पलटो को पेशकार कहतें है। यह एक उर्दू शब्द है जो कायदे का ही एक प्रकार माना गया है. 
 
 
 
Peshkar meaning in hindi – पेशकार का मतलब हिंदी में 
 
पेशकार से आशय पेश करने से होता है। अर्थात किसी सभा या लोगो के बीच अपनी कला को प्रस्तुत करना, पेशकार कहलाता है। दुसरे शब्दों में किसी भी ताल के ठेके के विकसित स्वरुप को हम पेशकार कह सकते है, क्योंकि यह ठेके को रचनात्मक रूप से प्रदर्शित करता है. 
  
          
              पेशकार का काम क्या होता है ?
वैसे तो पेशकार को और भी कई तरह से प्रयोग किया जाता है। लेकिन इसका मुख्य कार्य सम्बंधित ताल के बोलो पर पकड़ बनाना है। सरल भाषा में समझे तो सम्बंधित ताल यानि जैसे- तीनताल को ही लेलो हमें तीनताल के बोलो को तबले पर अच्छी तरह बजाने या पकड़ बनाने के लिए पेशकार का उपयोग करना पड़ेगा. 
 
 
 
      Tabla peshkar notes या Peshkar tabla bol
पेशकार कायदा का ही प्रकार होने के कारण इसमें भी Palte व विस्तार करना संभव है। किंतु जिस तरह कायदे के पलटो में कायदे के ही बोलो को ही बजाया जाता है, बाहर के बोल नहीं बजा सकते पेशकार में ऐसी कोई बंदिश नहीं होती इसमें स्वंत्रता के साथ बाहर के बोलो को भी बजाया जाता है। पेशकार के प्रारंभिक बोल कुछ इस प्रकार है.
 
 

तीनताल पेशकार बोल

1

2

3

4

धा

किडधाती

धाधा

धिना

x




5

6

7

8

धाती

धाती

धाधा

तिना

2




9

10

11

12

ता

किडताती

ताता

तिना

0




13

14

15

16

धाती

धाती

धाधा

धिना

3






Peshkar kitni maatra ka hota hai – पेशकार कितनी मात्रा का होता है।
पेशकार की अपनी कोई मात्रा स्थायी नहीं होती है, ये ताल पर निर्भर करता है, की हम कौनसी ताल में पेशकार का प्रयोग कर रहे है। जैसे मानलो हम Tintal में इसका प्रयोग कर रहे तो इसकी मात्रा भी 16 होगी क्योंकि, तीनताल 16 मात्रा की ताल है। और अगर हम एकताल में पेशकार बजा रहे है तो, इसकी मात्रा 12 होंगी। क्योंकि एकताल 12 मात्रा की ताल होती है। अब आप समझ गए होंगे की पेशकार की अपनी कोई मात्रा नहीं होती। वो केवल ताल पर निर्भर करता है की हम किस ताल में इसका प्रयोग करते है.
 
 
Peshkar Ke palte  पेशकार के पलटे या विस्तार करना
पेशकार में भी कायदे की तरह प्रयोग होने वाले बोलो को ही उलट-पलट कर ताल के रूप को न बदलते हुए नई रचना करना ही “पलटा” कहलाता है.
 
 
(1) तीनताल पेशकार प्रथम पलटा
 
 

प्रथम पलटा

1

2

3

4

धा

किडधाती

धाधा

धिना

x




5

6

7

8

धा

किडधाती

धाधा

धिना





9

10

11

12

धा

किडधाती

धाधा

धिना

2




13

14

15

16

धाती

धाती

धाधा

तिना





17

18

19

20

ता

किडताती

ताता

तिना

0




21

22

23

24

ता

किडताती

ताता

तिना





25

26

27

28

धाधा

किडधाति

धाधा

धिना

3




29

30

31

32

धाती

धाती

धाधा

धिना





 
(2)           तीनताल पेशकार दूसरा पलटा
 
 
 

दूसरा पलटा

1

2

3

4

धा

किडधाती

धाधा

किडधाती

x




5

6

7

8

धा

किडधाती

धाधा

धिना





9

10

11

12

धा

किडधाती

धाधा

धिना

2




13

14

15

16

धाती

धाती

धाधा

तिना





17

18

19

20

ता

किडताती

ता

किडताती

0




21

22

23

24

ता

किडताती

ताता

तिना





25

26

27

28

धाधा

किडधाति

धाधा

धिना

3




29

30

31

32

धाती

धाती

धाधा

धिना





 
 
(3)           तीनताल पेशकार तीसरा पलटा
 

तीसरा पलटा

1

2

3

4

धा

किडधाती

किडधा

किडधाती

x




5

6

7

8

किडधा

किडधाती

धाधा

धिना





9

10

11

12

धा

किडधाती

धाधा

धिना

2




13

14

15

16

धाती

धाती

धाधा

तिना





17

18

19

20

ता

किडताती

किडता

किडताती

0




21

22

23

24

किडता

किडताती

ताता

तिना





25

26

27

28

धा

किडधाति

धाधा

धिना

3




29

30

31

32

धाती

धाती

धाधा

धिना





 
(4)           तीनताल पेशकार चौथा पलटा
 

चौथा पलटा

1

2

3

4

धा

किडधाती

धाधा

धिना

x




5

6

7

8

धातीट

धातीटतीट

धाधा

धिना





9

10

11

12

धातीट

धातीटतीट

धातीट

धातीटतीट

2




13

14

15

16

धातीट

धातीटतीट

धाधा

तिना





17

18

19

20

ता

किडताती

ताता

तिना

0




21

22

23

24

तातिट

तातिटतीट

ताता

तिना





25

26

27

28

धातीट

धातीटतीट

धातीट

धातीटतीट

3




29

30

31

32

धातीट

धातीटतीट

धाधा

धिना





 

(5)           तीनताल पेशकार पाँचवा पलटा
इस पेशकार में 9 से 12 मात्रा तक के बोलो को x2  लिखा है। यानी इन सभी बोलो को दो बार बजाना है.
 
 
 

पाँचवा पलटा

1

2

3

4

धा

किडधाती

धाधा

धिना

x




5

6

7

8

धातीटकीट

तक

तीटकीट धाती

धाधाधिना





9

10

11

12 x 2

धातीटकीट

तक

तीटकीट

धातीधाती

2




13

14

15

16

धातीटकीट

तक

तीटकीट धाती

धाधातिना





17

18

19

20

ता

किडताती

ताता

तिना

0




21

22

23

24

तातिटकीट

तक

तीटकीटताती

तातातिना





25

26

27

28

धातीटकीट

तक

तीटकीट

धातीधाती

3




29

30

31

32

धातीटकीट

तक

तीटकीटधाती

धाधाधिना





 
 
तीनताल पेशकार के ऐसे तो कई पलटे बनाये जा सकते है। लेकिन, इन पांच पलटो के द्वारा आप अच्छे से समझ गए होंगे की। किस तरह पलटो का विस्तार किया जाता है। इन पलटो पर आप जितना अभ्यास करोंगे, उतनी पकड़ आपकी तबले पर बनेगी.
 
 
Teental peshkar tihai – तीनताल पेशकार तिहाई
 
हमने तीनताल के पिछले लेसनो में पढ़ा की तीनताल के वादन को समाप्त करने के लिए tihai का प्रयोग किया जाता है। ठीक उसी प्रकार तीनताल पेशकार के वादन को भी समाप्त करने के लिए तिहाई की आवश्यकता पड़ेगी। तीनताल पेशकार tihai क्या है, आदि। इसे हम नीचे देखेंगे.
 
पेशकार की तिहाई
धातीटकीट  तक  तीटकीट  धाती
धाधा    तिना    धा    
धाधा    तिना    धा    
धाधा    तिना    धा    
इस पुरे Potion को 3 बार बजाना है.
 
 
इन्हें भी देंखे - 
 
इस Lesson में हमने तीनताल पेशकार के बारे में जाना की तीनताल पेशकार क्या है। इसे तीनताल में किस प्रकार प्रयोग किया जाता है.
 
 
आज का ये लेसन आपको कैसा लगा हमें comment करके अवश्य बताये। साथ ही इस लेसन से सम्बंधित कोई प्रश्न तो भी आप मुझे कमेंट के माध्यम से बता सकते है, उस प्रश्न का जबाब जल्द से जल्द देने की कोशिश करूँगा। साथ ही आपसे एक request करना चाहूँगा की ये लेसन आपको अच्छा लगा हो तो, आप अपने दोस्तों मित्रो के साथ शेयर करना ना भूले.
 
 
आप हमें social मीडिया platform जैसे की facebook twitter आदि पर भी follow कर सकते है। इससे होगा ये की, आपको आगे आने वाले किसी भी notification आपको  मिलता रहे.
 
 
आगे के लेसन में हम तीनताल की लग्गी, दौड़ और तीनताल के रैला के बारे में जानेंगे.